होस्टिंग क्या है और ये कितने प्रकार की होती है?

Hosting एक वेब सर्वर होता है (web hosting kya hai ) जहाँ पर डाटा को स्टोर किया जाता है. मान लीजिये आपके पास एक फ़ोन है और उसमे आपको एक फाइल सेव करनी है तो आपको एक मेमरी कार्ड की जरुरत पड़ेगी.

इस मेमोरी कार्ड में आपने एक बार फाइल को स्टोर कर लिया तो जब भी आपको जरुरत पड़ेगी तब उस फाइल को देख सकते है जब तक आप उस फाइल को अपने मेमोरी कार्ड से डिलीट नहीं करोगे तब तक इसे अपने फ़ोन में या कंप्यूटर में देख सकते है.

hosting kya hai

इसी प्रकार एक होस्टिंग का सर्वर होता है जहाँ पर वेबसाइट/ब्लॉग का डाटा सेव किया जाता है और सेव करने के बाद उसको लोगों के सामने present किया जाता है.

Hosting Kya Hai

होस्टिंग का एक सर्वर होता है जिसे बहुत सी कंपनी provide करती है वहां से ख़रीदा जा सकता है जैसे – hostgator, godaddy, resellerclub और भी बहुत सारी कंपनी इन्टरनेट पर है जो होस्टिंग प्रदान करती है.

जैसे आप ये ब्लॉग read कर रहे हो यहाँ जो भी मैंने लिखा है वो कहीं तो स्टोर किया है मैंने तभी आप इसे read कर पा रहे हो.

यह आपको अलग अलग मेमोरी के अनुसार अलग अलग price में मिलेगा लेकिन आपको इसमें इसकी storage के बारे में देखना पड़ेगा की आपको कितनी बड़ी होस्टिंग space की जरुरत है.

इसमें आपको ये चार चीजे जरुर चेक करनी होती है :- 1) Bandwidth (2) Disk Space (3) Uptime (4) Disk Space

Bandwidth Kya Hai

बैंडविड्थ क्या है – जब आपकी वेबसाइट को कोई यूजर देखता है या विजिट करता है तो वह आपकी होस्टिंग की बैंडविड्थ को use करके आपके पेज को लोड करके यूजर के सामने रिजल्ट ला देगा अगर आपकी होस्टिंग की बैंडविड्थ कम है और आपकी वेबसाइट को ज्यादा यूजर access कर रहे है तो होस्टिंग का सर्वर down हो जायेगा और आपको रिजल्ट show करने में बहुत टाइम लगा देगा या फिर आपके सामने कुछ भी रिजल्ट नहीं दिखायेगा.

Disk Space

डिस्क स्पेस आपकी होस्टिंग की स्टोरेज पॉवर होती है यानि आपका होस्टिंग कितना डाटा storage कर सकता है जैसे आपका कंप्यूटर या फ़ोन है उसमे आपका मेमोरी कार्ड 2 GB का है और उसको अपने पहले से ही फुल कर रखा है और आपके पास एक फाइल और है उसको भी उसमे डालना चाहते है तो क्या डाल पाओगे नहीं ना तो इसका भी disk space इसी तरह काम करता है. यह 100 GB, 500 GB या 1 TB इस हिसाब से होती है.

Uptime Kya Hai

Uptime क्या है – का मतलब है कितने टाइम आपकी वेबसाइट लाइव रही मान लीजिये एक मेरी वेबसाइट है और वो 10 दिन से बिलकुल सही चल रही है उसमे कोई प्रॉब्लम नहीं आई या वह वेबसाइट सही से open हो रही है लेकिन उसी दिन मेरी वेबसाइट थोड़ी देर के लिए down हो जाती है और खुल नहीं पाती है तो इसे हम downtime कहेंगे तो आज लगभग सभी होस्टिंग कंपनी 99.9% तक का Uptime देती है.

Customer Service

कस्टमर सर्विस इन सभी के साथ साथ यह भी बहुत जरुरी है की उस कंपनी की कस्टमर सपोर्ट कितनी अच्छी है यदि आपकी वेबसाइट में कोई technical error आ जाता है या कोई अन्य प्रॉब्लम हो जाती है तो कंपनी उसकी सपोर्ट आपको देती है या नहीं क्या यह उस issue को resolve सकती है.

होस्टिंग कौन सी कंपनी की अच्छी होती है या कौन सी कंपनी की खरीदनी चाहिए ?

अगर ऊपर बताई गयी सभी चीजें देखें तो सबसे अच्छा hostgator ही है जो आपको सब कुछ सही price में और फुल कस्टमर सपोर्ट प्रदान करता है.

में तो इसी होस्टिंग कंपनी को recommanded करूँगा क्योंकि मैंने भी इससे पहले बहुत सी कंपनी try की लेकिन हर जगह कोई न कोई दिक्कत जरुरी आई लेकिन अभी में कभी समय से hostgator use कर रहा हूँ और इसकी सर्विस भी भी अच्छी है और कस्टमर सपोर्ट भी अच्छी है.

होस्टिंग कितने प्रकार की होती है – Types of Hosting

वैसे तो होस्टिंग के बहुत प्रकार है ( hosting kya hai और इसके कितने प्रकार है ) लेकिन सबसे ज्यादा तीन प्रकार की hosting का इस्तेमाल किया जाता है. तो मुख्या रूप से होस्टिंग तीन प्रकार की होती है.

  • Shared Hosting
  • VPS Hosting ( VPS Server )
  • Dedicated Hosting ( Dedicated Server )

Shared Hosting Kya hai

शेयर्ड होस्टिंग किसी website, blog या web page बनाने के लिए किया जाता है छोटे छोटे ब्लॉगर या वेबसाइट owner shared hosting का इस्तेमाल करते है क्योंकि यह अन्य होस्टिंग से थोड़ा सस्ता होता है.

इसमें आपको जिस कंपनी से होस्टिंग खरीदी है उसके द्वारा cpanel दिया जायेगा जहाँ से आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग के लिए डाटा अपलोड कर सकते है या wordpress आदि इनस्टॉल कर सकते है.

इस होस्टिंग में आपके पास root access नहीं होता यह कंपनी खुद manage करती है इसमें सब कुछ पहले से ही customize करके रखती है की user को क्या क्या इसमें provide करवाना है.

बाकि beginner के लिए बहुत अच्छी होती है उसको इसमें ज्यादा कुछ करने की जरुरत नहीं होती और वो easily इसे use कर सकता है और अपनी blog या website बना सकता है.

अगर आप एक begginer है तो आप शेयर्ड होस्टिंग में जाये ताकि आप आसानी तो इसे manage कर सके और कोई समस्या आती है तो customer support भी इसमें आपको मिलता है.

आपको अपने end से ज्यादा कुछ करने की जरुरत नहीं होती इसमें बना बनाया cpanel आपको मिलता है बस आपको अपनी ब्लॉग या वेबसाइट को सेटअप करना होता है.

Shared Hosting Plans

इसमें आपको अलग अलग प्लान देखने को मिल जायेंगे जिसमे आपको 1 वेबसाइट host करने के लिए मिलता है 2, 5, 10 और unlimited वेबसाइट होस्ट करने तक की होस्टिंग मिलती है लेकिन इनका price disk space और bandwidth के अनुसार होता है.

इसमें बहुत सारी वेबसाइट एक ही सर्वर पर host की हुई होती है कंपनी एक सर्वर में अलग अलग user यानि cpanel बनाकर बहुत सारे लोगों के साथ शेयर कर देती है जिससे कभी कभी सर्वर down हो जाता है और आपकी वेबसाइट या ब्लॉग कुछ समय के लिए डाउन हो जाती है या फिर बंद हो जाती है.

क्योंकि की एक ही सर्वर पर बहुत सारी वेबसाइट host होने के कारण किसी एक वेबसाइट पर लोड आता है या users एक दम ज्यादा आ जाते है तो वो सर्वर इसको झेल नहीं पता और डाउन हो जाता है.

लेकिन आप सोच रहे होंगे की अगर ज्यादा यूजर उसकी वेबसाइट पर आये है तो हमारी वेबसाइट क्यों डाउन होगी लेकिन ऐसा नहीं है आपकी भी वेबसाइट डाउन हो जाएगी क्योंकि उसका और आपका सर्वर तो एक ही है उसकी वेबसाइट का डाउन होने का कारण है सर्वर पर एक दम से लोड आना but उसका और आपका सर्वर एक है तो आपकी भी वेबसाइट वर्क नहीं पर पायेगी कुछ टाइम के लिए.

इसमें इतनी ज्यादा भी दिक्कत नहीं आती यह कभी कभी ऐसा हो जाता है लेकिन होस्टिंग कंपनी इसको manage करती रहती है.

Share Now

Leave a Comment

error: Content is protected !!